Movie prime
Assembly Election 2022 Dates: 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान

Election 2022 Dates: चुनाव आयोग आज पांच राज्यों की विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान

 
 

Assembly Election Dates 2022: उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में विधानसभा चुनावों की तारीख का ऐलान आज हो जाएगा। चुनाव आयोग आज दोपहर साढ़े 3 बजे इस संबंध में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगा। उत्तर प्रदेश में जहां 403 सीटों पर मतदान होगा। वहीं गोवा में 40 विधानसभा सीटों के लिए सभी पार्टियां जान झोंके हुए हैं।  पंजाब में 117 सीटों पर विधानसभा चुनाव होंगे। उत्तराखंड में 70 विधानसभा सीट हैं। जबकि मणिपुर में 60 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है। । इन तारीखों के ऐलान के साथ ही इन सभी राज्यों में चुनाव आचार संहिता लागू हो जाएगी। 

Assembly Election 2022 Dates Announcement

Election 2022 Dates: 403 विधानसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में 7 चरणों मतदान होगा। इसके अलावा उत्तराखंड और पंजाब में 14 फरवरी को एक ही राउंड में मतदान होना है। उत्तर प्रदेश में पहले राउंड की वोटिंग 10 फरवरी को होगी। इसके बाद दूसरे चरण का मतदान 14 फरवरी को होना है। 20 फरवरी को तीसरे और 23 तारीख को चौथे राउंड की वोटिंग होगी। 27 फरवरी को 5वें, 3 मार्च को छठे और 7 मार्च को 7 राउंड का मतदान होना है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने बताया कि 10 मार्च को सभी 5 राज्यों के नतीजों का ऐलान किया जाएगा। 

रैली, रोड शो पर लगी रोक, सिर्फ वर्चुअल कैंपेन की होगी परमिशन
यूपी समेत सभी 5 राज्यों में वोटिंग का समय एक घंटा बढ़ा दिया गया है। इसके अलावा सभी राज्यों में 15 जनवरी तक किसी भी तरह की रैली, रोड शो, बाइक रैली, नुक्कड़ सभाओं पर रोक लगा दी गई है। सिर्फ वर्चुअल कैंपेन की ही अनुमति होगी। 15 जनवरी के बाद हालात की समीक्षा की जाएगी। यदि कोरोना नियंत्रण में होता है तो फिर कुछ छूट दी जा सकती हैं। चुनाव की समाप्ति के बाद किसी भी तरह के विजय जुलूस पर रोक होगी।

सभी चुनाव अधिकारियों के लिए कोरोना की दोनों डोज जरूरी
मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने चुनाव के दौरान कोरोना नियमों की जानकारी देते हुए कहा कि हमें महामारी से निकलने का यकीन रखना होगा। उन्होंने नियमों के बारे में बताते हुए एक शेर से शुरुआत की। सुशील चंद्रा ने कहा, 'यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट लेकर भी चिराग जलता है।' चुनाव में तैनात सभी कर्मियों को वैक्सीन की दोनों डोज लगी होनी चाहिए। चुनाव आयुक्त ने कहा कि उत्तराखंड और गोवा में ज्यादातर लोगों को दोनों डोज लग चुकी हैं। यूपी में 90 फीसदी वयस्कों को कम से एक टीका लग चुका है।

ऑनलाइन भी हो सकेगा नामांकन, अधिसूचना तत्काल प्रभाव से लागू
चुनाव आयोग ने कहा कि इलेक्शन के दौरान अवैध पैसे और शराब पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। इसके अलावा कोरोना संकट को देखते हुए उम्मीदवारों को ऑनलाइन नामांकन की भी सुविधा दी जाएगी। चुनाव आचार संहित इलेक्शन शेड्यूल जारी होने के बाद ही लागू हो जाएगी। चुनाव की अधिसूचना तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है और इसके चलते अब किसी भी राज्य में कोई सरकार जनता को लुभाने की घोषणाओं का ऐलान नहीं कर सकेगी।

आपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों के बारे में अखबार में देनी होगी जानकारी
मुख्य चुनाव आयुक्त ने एक नियम की घोषणा करते हुए कहा कि यदि कोई राजनीतिक दल आपराधिक छवि वाले कैंडिडेट को चुनता है तो उसके बारे में अखबारों में जानकारी देनी होगी। इसके अलावा यह भी बताना होगा कि उन्हें क्यों चुना गया है। उम्मीदवारों को भी अपने ऊपर दर्ज आपराधिक मुकदमों के बारे में जानकारी होगी। Know Your Candidate ऐप भी लॉन्च किया गया है। इसके जरिए लोग अपने उम्मीदवार के बारे में विस्तार से जान सकेंगे। मुख्य आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि सभी राज्यों में कुल 900 पर्यवेक्षक चुनावी प्रक्रिया पर नजर रखेंगे।

हर कार्यक्रम की होगी वीडियोग्राफी, 1620 पोलिंग स्टेशनों पर महिला कर्मचारी
मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि सभी कार्यक्रमों की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। कोरोना काल में चुनाव कराना चुनौतीपूर्ण है। यूपी समेत 5 राज्यों के चुनावों में 690 सीटों पर मतदान कराया जाना है। हमने सभी राज्यों के डीजीपी और प्रशासनिक अधिकारियों से मुलाकात कर चुनावी तैयारियों का जायजा लिया है। कोरोना काल में भी चुनाव कराना हमारा कर्तव्य है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि 1620 पोलिंग स्टेशनों पर महिला कर्मचारी होंगी। सभी राज्यों के लिए मतदाता सूची 5 जनवरी को प्रकाशित हुई है। इसमें 24.9 लाख नए वोटर जोड़े गए हैं। पोलिंग स्टेशनों में 16 फीसदी का इजाफा हुआ है। 

चुनाव में प्रत्याशी ऑनलाइन नॉमिनेशन कर सकेंगे
चुनाव आयोग ने कहा कि आचार संहिता लागू होने के बाद हरेक पहलू पर आयोग कि नजर रहेगी। चाहे वह पोलिंग स्टेशन का संरक्षण हो या फिर निष्पक्ष चुनाव कराना। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी ऑनलाइन नॉमिनेशन कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि छोटी वोटर गाइड भी मुहैया करायी जाएगी। वोटर को सशक्त आयोग द्वारा विभिन्न पहलों से किया जा रहा है। लोकतंत्र के लिए यह जरूरी है कि ज्यादा से ज्यादा मतदाता चुनाव में मत डाले। 

इतना खर्च कर पाएंगे प्रत्याशी
मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा, भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी पॉलिसी जीरो टॉलरेंस की नीति है। यूपी और पंजाब में प्रत्याशी 40 लाख रुपये खर्च कर पाएंगे।  इसके अलावा, गोवा, मणिपुर और उत्तराखंड में प्रत्याशियों को 28 लाख रुपये खर्च करने की इजाजत होगी। उन्होंने कहा कि कोई भी गैरकानूनी पैसा या शराब नहीं होनी चाहिए। 

24.9 लाख मतदाता पहली बार वोट करेंगे
मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि 24.9 लाख मतदाता पहली बार वोट करेंगे। कुल 18.30 करोड़ मतदाता वोट करेंगे।