Movie prime
भगवती गीत : लाले-लाले अरहुल के माला बनेलऊँ गीत लिरिक्स

लाले-लाले अरहुल के माला बनेलऊँ, गरदनि लगा लियोऊ माँ। हे माँ गरदनि लग लियोऊ माँ.....

 

लाले-लाले अरहुल के माला बनेलऊँ, गरदनि लगा लियोऊ माँ।
हे माँ गरदनि लग लियोऊ माँ.....

  
हम सब छी धीया-पूता आहाँ महामाया, आहाँ नई करबै त करतै के दाया।
ज्ञान बिनु माटिक मुरति सन ई काया, तकरा जगा दिय माँ। 
हे माँ तकरा जगा दिय माँ.....

कोठा-अटारी ने चाही हे मइया, चाही सिनेह नीक लागै मड़ैया।
ज्ञान बिनु माटिक मुरुत सन ई काया, तकरा जगा दिया माँ।  
हे माँ तकरा जगा दिया माँ.....

आनन ने चानन कुसुम सन श्रींगार, सुनलऊँ जे मइया ममता अपार।
भवन सँ जीवन पर दीप-दीप पहार भार, तकरा हटा दिय माँ।
हे माँ तकरा हटा दिय माँ.....

सगरो चराचर अहीं केर रचना, सुनबई अहाँ नै त सुनतै के अदना।
भावक भरल जल नयना हमर माँ, चरनऊ लगा लियोऊ माँ। 
हे माँ चरनऊ लगा लियोऊ माँ.....

लाले-लाले आहुल के माला बनेलऊँ, गरदनि लगा लियोऊ माँ.....