Friday, April 19, 2024
Homeभक्ति पर्वValmiki Ramayana in Hindi: महर्षि वाल्मीकि रामायण में कितने कांड है?

Valmiki Ramayana in Hindi: महर्षि वाल्मीकि रामायण में कितने कांड है?

Valmiki Ramayana in Hindi: महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित रामायण महाकाव्य में सात अध्याय हैं जो काण्ड के नाम से जाने जाते हैं। जिसमे कुल 24000 श्लोक है।

वाल्मीकि रामायण में कितने कांड हैं उनके नाम?

1. बालकाण्ड

बाल-कांड—बाल कांड वाल्मीकि रामायण (Valmiki Ramayana in Hindi) का पहला कांड है। इसमें राम सहित चारों भाइयों के जन्म, बाल-लीलाओं से लेकर विश्वामित्र द्वारा उन्हें लिवा जाना, कई राक्षसों से युद्ध, जनकपुरी में धनुष-भंग एवं राम-जानकी विवाह तक की घटनाएं काव्यात्मक रूप में वर्णित हैं।

2. अयोध्याकाण्ड

अयोध्या-कांड—वाल्मीकि रामायण का दूसरा कांड है अयोध्या कांड। इसमें राम के राज्याभिषेक के पूर्व, मंथरा के उकसाने पर रानी कैकेयी के द्वारा, दशरथ से अपने दो पूर्व वचनों को मनवाने का दुराग्रह, राम-सीता-लक्ष्मण का वन-गमन, दशरथ की मृत्यु, राम-भरत मिलाप, भरत द्वारा राम की चरण-पादुका को सिंहासन पर रखकर राज-काज चलाने का निश्चय करना आदि घटनाओं का उल्लेख है।

3. अरण्यकाण्ड

अरण्य-कांड—वाल्मीकि रामायण का तीसरा कांड है अरण्य काण्ड। इसमें दंडक-वन में शूपर्णखा का प्रणय-निवेदन, राम द्वारा इंकार एवं लक्ष्मण द्वारा उसका हिंसात्मक अपमान, स्वर्ण-मृग एवं रावण द्वारा सीता-अपहरण, जटायु द्वारा उसका वीरतापूर्वक प्रतिरोध एवं बलिदान आदि घटनाओं का उल्लेख है।

4. किष्किन्धाकाण्ड

किष्किंधा-कांड—वाल्मीकि रामायण का चौथा कांड है किष्किंधा कांड। इसमें सीता की खोज के क्रम में किष्किंधा-नगरी में हनुमान से भेंट, सुग्रीव से मित्रता, बाली-वध, सुग्रीव का राज्यारोहण आदि घटनाओं का वर्णन है।

5. सुन्दरकाण्ड

सुंदर-कांड—सुंदर कांड वाल्मीकि रामायण का पांचवा भाग है इस कांड में हनुमान द्वारा समुद्र लांघकर लंका जाने, सीता को ढ़ूंढ़ कर मिलने, राम का संदेश देने, अशोक-वाटिका उजाड़ने, लंका-दहन, राम-विभीषण मैत्री आदि का वर्णन है।

यह भी पढ़े- रामायण की सर्वश्रेष्ठ चौपाई अर्थ सहित हिंदी में, रामचरितमानस चौपाई अर्थ सहित

6. लंकाकाण्ड (युद्धकाण्ड)

लंका-कांड—वाल्मीकि रामायण का छठा कांड है लंका कांड। इसमें राम-रावण युद्ध, रावण की मृत्यु, सीता की रावण की कैद से मुक्ति, अग्नि-परीक्षा, पुष्पक विमान पर आरूढ़ होकर अयोध्या-आगमन, स्वागत में दीपोत्सव का आयोजन आदि घटनाओं का वर्णन है।

7. उत्तरकाण्ड

उत्तर-कांड—ऐसा माना जाता है कि सातवां कांड अर्थात उत्तर कांड मूल रामायण (Valmiki Ramayan in Hindi) का भाग नहीं था, लेकिन बाद में इसे वाल्मीकि रामायण में जोड़ दिया गया है। उत्तरकाण्ड राम कथा का उपसंहार है। इसमें राम के राज्याभिषेक से लेकर, सीता का त्याग, लव-कुश का जन्म, राम की सेना से उनका टकराव, राम द्वारा उन्हें अपने पुत्र -स्वरूप स्वीकारना, सीता की अग्नि-परीक्षा, उनका भूमि में समा जाना, राम द्वारा सरयू में जल-समाधि आदि घटनाओं का वर्णन है।

FAQs

रामायण महाकाव्य के रचियता कौन थे?

रामायण महाकाव्य के रचियता महर्षि वाल्मीकि थे।

महर्षि वाल्मीकि रामायण में कितने कांड है?

रामायण में सात काण्ड हैं – बालकाण्ड, अयोध्यकाण्ड, अरण्यकाण्ड, सुन्दरकाण्ड, किष्किन्धाकाण्ड, लङ्काकाण्ड और उत्तरकाण्ड।

रामायण का दूसरा नाम क्या है?

रामायण को वाल्मीकि रामायण के नाम से भी जाना जाता है।

महर्षि वाल्मीकि रामायण में कुल कितने श्लोक हैं?

महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित रामायण में कुल 24000 श्लोक हैं।

विपिन कुमार झा
विपिन कुमार झा
"विपिन कुमार झा, एक अनुभवी पत्रकार हैं, जिन्हें मीडिया इंडस्ट्री में करीब 4 साल का एक्सपीरिएंस है। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत एक ऑनलाइन समाचार वेबसाइट से की थी, जहां उन्होंने खेल, टेक और लाइफस्टाइल समेत कई सेक्शन में काम किया। इन्हें टेक्नोलॉजी, खेल और लाइफस्टाइल से जुड़ी काफी न्यूज लिखना, पढ़ना काफी पसंद है। इन्होंने इन सभी सेक्शन को बड़े पैमाने पर कवर किया है और पाठकों लिए बेहद शानदर रिपोर्ट पेश की हैं।
RELATED ARTICLES

Most Popular