PM Modi Launch e-RUPI: जानें इसके फायदे, कैसे करता है काम और कहां होगा इसका इस्तेमाल

e-RUPI
Image Source NHA Twitter A/c


PM Narendra Modi e-RUPI Launch:
यह सेवा पूरी तरह से कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस है।e-RUPI को नेशनल पेमेंट्सकॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने डेवलप किया है।

PM Narendra Modi e-RUPI Launch: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज 2 अगस्त को वीडियोकॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शाम 4 बजकर 30 मिनट पर वाउचरइलेक्ट्रॉनिक वाउचर पर आधारित एक डिजिटल पेमेंट सिस्टम ‘e-RUPI’ लांच करेंगे। यह डिजिटल पेमेंट के लिए एक कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस मीडीयम है।यह एक QR कोड या SMS स्ट्रिंग-बेस्ड ई-वाउचर है, जिसे लाभार्थियों के मोबाइल पर भेजा जाता है। ये सर्विस प्रोवाइडर को बिना किसी मध्यस्थ की भागीदारी के समय पर पेमेंट करेगी।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया ट्वीट

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने इस बारे में अपने ट्विटर हैंडल पर किए एक पोस्ट में यह जानकारी शेयरकी है. पीएम ने कहा है कि इससे सर्विस देने वाले और फायदा पाने वाले दोनों कनेक्ट हो जाएंगे।साथ ही कल्याणकारी योजनाओं केफायदे पूरी तरह से सुनिश्चित हो सकेंगे।

क्या है रुपी? What is e-RUPI?

रुपी (r-RUPI) को भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) ने अपने यूपीआई प्लेटफॉर्म पर वित्तीय सेवा विभाग, स्वास्थ्य और परिवारकल्याण मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सहयोग से विकसित किया हैं। यह डिजिटल भुगतान के लिए पूरी तरह से कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस है।यह एक QR कोड या SMS स्ट्रिंग-बेस्ड ई-वाउचर है, जिसे लाभार्थियों के मोबाइल पर भेजा जाता है। ये सर्विस प्रोवाइडर को बिना किसी मध्यस्थ की भागीदारी के समय पर पेमेंट करेगी। 

कैसे करता है काम?

यह एसएमएस स्ट्रिंग या एक क्यूआर कोड के रूप में वाउचर के तौर पर काम करता है। यह एक तरह से गिफ्ट वाउचर के जैसा होगा जिसे बिना किसी क्रेडिट या डेबिट कार्ड या मोबाइल ऐप या इंटरनेट बैंकिंग के अनुमति के बिना भी रिडीम किया जा सकता है।

कई तरह के मिलेंगे फायदे (benefits of e-RUPI)

e-RUPI सर्विस से लोगों को बहुत से फ़ायदे मिलेंगे।

e-RUPI एक कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस डिजिटल पेमेंट है।

सेवा प्रायोजकों और लाभार्थियों को डिजिटल रूप से जोड़ता है।

विभिन्न कल्याणकारी सेवाओं की लीकप्रूफ डिलीवरी सुनिश्चित करता है।

यह एक क्यूआर कोड या एसएमएस स्ट्रिंगआधारित वाउचर है, जिसे लाभार्थियों के मोबाइल पर पहुंचाया जाता है।

-RUPI बिना किसी भौतिक इंटरफेस के डिजिटल तरीके से लाभार्थियों और सेवा प्रदाताओं के साथ सेवाओं के प्रायोजकों को जोड़ता है।

कहाँ हो सकता है e-RUPI का उपयोग?

इसका इस्तेमाल आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, उर्वरक सब्सिडी आदि जैसी योजनाओं के तहत मातृ एवं बाल कल्याणयोजनाओं, टीबी उन्मूलन कार्यक्रमों, दवाओं और निदान के तहत दवाएं और पोषण सहायता प्रदान करने के लिए योजनाओं के तहतसेवाएं देने के लिए भी किया जा सकता है।

प्राइवेट सेक्टर भी अपने कर्मचारी कल्याण और कॉर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी कार्यक्रमों के हिस्से के रूप में इन डिजिटल e-वाउचर काइस्तेमाल कर सकता है।

Share:

Leave a Comment